neena gupta husband: नीना गुप्ता का आपबीती सुनाते फनी विडियो, हर पति-पत्नी कर सकेंगे रिलेट – neena gupta funny video made by husband is relatable for almost all couples

0
148
advertisement


नीना गुप्ता अपने बेबाक अंदाज के साथ ही अन-फिल्टर्ड एक्सप्रेशन्स के लिए भी जानी जाती हैं। वह तो सोशल मीडिया अकाउंट्स पर भी अपनी दिल की बात रखने में संकोच नहीं करतीं। ऐसी ही एक बात उन्होंने विडियो बनाकर फैन्स के साथ शेयर की थी। वैसे तो यह क्लिप देख हंसी आ जाती है, लेकिन सच तो ये है कि लगभग हर पति-पत्नी ऐक्ट्रेस के इस विडियो से खुद को रिलेट कर सकेंगे।

दरअसल, कुछ समय पहले नीना ने अपने इंस्टाग्राम पर एक विडियो शेयर किया था, जिसमें उन्होंने बताया था कि उन्होंने अपने पति के कारण साइन लैंग्वेज सीख ली है। उन्होंने बताया था कि उनके हबी ‘हमेशा फोन पर बिजी रहते हैं। वो जब जागते रहते हैं, तब 90% टाइम फोन पर ही लगे रहते हैं।’

इसके बाद नीना ने विडियो में ऐक्शन करके बताया था कि वह कैसे मोबाइल में गुम रहने वाले अपने पति विवेक से बात करती हैं। उन्होंने खाना खाने से लेकर, वॉक पर जाने और सोने तक के इशारों को शेयर किया, जिसके जरिए वह पति से बिना कहे अपनी बातें पहुंचाती हैं।


स्मार्टफोन का ज्यादा इस्तेमाल पहुंचाता है रिश्ते को नुकसान
यह विडियो भले ही फनी हो, लेकिन रिलेशनशिप एक्सपर्ट्स भी ये मानते हैं कि आज के युग में पति-पत्नी के बीच रिश्ते खराब होने की अहम वजहों में से एक स्मार्टफोन का ज्यादा इस्तेमाल बन चुका है। इसी सब्जेक्ट पर चीन में हुई एक स्टडी में तो चौंकाने वाली चीज सामने आई थी। तलाक के बढ़ते मामलों के कारण का पता लगाने के लिए किए गए सर्वे में यह सामने आया था कि पति-पत्नी के अलग होने की बड़ी वजह स्मार्टफोन का यूज है।

करीना कपूर से लेकर नीना गुप्ता तक, रिश्ते में नहीं करतीं इन बातों से समझौता

कम्यूनिकेशन गैप की वजह
दोनों साथी या किसी एक का मोबाइल में भिड़े रहना कम्यूनिकेशन गैप को जन्म देता है। उदाहरण के लिए, ऑफिस से घर आने के बाद पति-पत्नी का एक-दूसरे से बात करने की जगह फोन पर किसी और से बात करते रहना या सोशल मीडिया ऐक्सिस करते रहने पर उन दोनों को एक-दूसरे से ही बात करने का समय नहीं मिल पाता है। इससे धीरे-धीरे वे एक-दूसरे की लाइफ से कनेक्शन खोते जाते हैं, जो इमोशनल डिस्टेंस बढ़ने की वजह बन जाता है।

‘मुझे बच्चा पैदा करना है, लेकिन शादी नहीं’, जानें क्यों नीना गुप्ता की तरह महिलाएं हो जाती हैं इस कदम को उठाने पर मजबूर

फोन नहीं साथी पर ध्यान
एक्सपर्ट की मानें, तो हेल्दी रिलेशनशिप मेनटेन करने के लिए स्मार्टफोन यूज को कंट्रोल करना बेहद जरूरी है। अगर पति-पत्नी साथ में हैं, तो जब तक बहुत जरूरी न हो, तब तक मोबाइल से दूरी रखना सही है। इसकी जगह दोनों जब बातें करेंगे, तो उन्हें एक-दूसरे से इमोशनल और डे-टू-डे चीजों के बारे में प्रॉपर कम्यूनिकेशन बनाए रखने में मदद मिलेगी। यह किसी भी तरह की गलतफहमी को भी बीच में आने से रोकेगी।





Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here